Return to Video

Octotales: MailChimp

  • 0:01 - 0:04
    (पदचापेंं)
  • 0:06 - 0:08
    (प्रवेश उपकरण) पहुँच दे दी गयी
  • 0:08 - 0:09
    हाय फ्रेडी!
  • 0:09 - 0:11
    मेलचिंप अद्भुत और खास है
  • 0:11 - 0:15
    क्‍योंकि येे रचनाशील बेमेल लोगों का दल है
  • 0:15 - 0:16
    जो कि बहुत समझदार भी हैं
  • 0:16 - 0:20
    मैंने अपने सहकर्मियों से बहुत सीखा है
  • 0:20 - 0:24
    और हर दिन किसी से बिना किसी उम्‍मीद के
  • 0:24 - 0:27
    कुछ नया सीखना एक बड़ी बात है
  • 0:27 - 0:29
    धन्‍यवाद, मेलच‍िंंप में स्‍वागत है
  • 0:29 - 0:31
    (संगीत)
  • 0:45 - 0:49
    मेलचिंप ई-मेल विपणन सॉफ्टवेयर है
  • 0:49 - 0:53
    जो ई-मेल अभियान बनाने और भेजने देेता है
  • 0:53 - 0:56
    ई-मेल ग्राहकों की सूची संभालता है
  • 0:56 - 0:59
    और वास्‍तव में ई-मेल स्‍वचालन और
  • 0:59 - 1:01
    विश्‍लेषण जैसे अद्भुत कार्य भी करता है
  • 1:01 - 1:03
    (संगीत)
  • 1:03 - 1:04
    अब हम एक द‍िलचस्‍प कंपनी हैं
  • 1:04 - 1:06
    हम रचनाशीलता को सराहते हैं
  • 1:06 - 1:08
    काम करने वाले लोगों के निचले स्‍तर तक
  • 1:08 - 1:10
    हमें रचनाशील होने के लिए प्रेरित करते हैंं
  • 1:10 - 1:13
    हम किसी को भी कोड में बदलाव करने देते हैं
  • 1:13 - 1:15
    एक बार सहकर्मियों की समीक्षा के बाद
  • 1:15 - 1:17
    यह अपने आप उत्‍पादन में काम आता है
  • 1:17 - 1:19
    हम स‍िर्फ एक विचार सुझाते हैं
  • 1:19 - 1:20
    लोग उस पर अमल कर सकते हैं
  • 1:20 - 1:23
    यदि आप सहमत न भी हों, आप सहयोग कर सकते हैं
  • 1:23 - 1:26
    हमारे कोड का बुनियादी ढांचा बड़ा है
  • 1:26 - 1:29
    इसलिए हम कोड में सहयोग कर सकते हैं
  • 1:29 - 1:32
    इन्‍फ्रास्‍ट्र्र्र्रक्‍चर वाले के लिए
  • 1:32 - 1:34
    हमारा कोड कविता है
  • 1:34 - 1:36
    तो इस तरह हम रचनाशील भूमिका निभाते हैं
  • 1:36 - 1:38
    मैं सोचती हूं कि सभी को अपने काम में
  • 1:38 - 1:40
    रचनाशीलता के लिए प्रेरित किया जाता है
  • 1:40 - 1:42
    और सभी अपने काम में रचनाशील हो सकते हैं
  • 1:42 - 1:45
    यह अभिकल्‍पन और विपणन तक सीमित नहींं है
  • 1:45 - 1:46
    और वे यही पूछ रही हैं ना
  • 1:46 - 1:48
    नये अभियंता जो यहां आकर काम करते हैं
  • 1:48 - 1:50
    विभिन्‍न पृष्‍ठभूमियों से हो सकते हैं
  • 1:50 - 1:52
    अपनी रिक्‍तियों में हम कहते हैं कि‍
  • 1:52 - 1:54
    हमें परवाह नहीं कि आपने कहां काम किया है
  • 1:54 - 1:56
    और आप किस परिवार से हैं
  • 1:56 - 1:57
    हमें सिर्फ अच्‍छे अभियंता चाहिए
  • 1:57 - 1:59
    हमारे पास डेवलपर्स के लिए
  • 1:59 - 2:01
    अधिकतम तीन माह का समय था
  • 2:01 - 2:02
    क्‍योंकि हमें उन्‍हें अपनी
  • 2:02 - 2:04
    आंतरिक व्‍यवस्‍था सिखानी पड़ती थी
  • 2:04 - 2:08
    जबकि अब इसमें कुछ ही दिन लगते हैं
  • 2:08 - 2:09
    कुछ लोग पहले दिन से ही
  • 2:09 - 2:11
    कोड में सहयोग करने लगते हैं
  • 2:11 - 2:13
    और सीधे काम में लग सकते हैं
  • 2:13 - 2:16
    लोगों को यह सब सिखाना आवश्‍यक नहीं है
  • 2:16 - 2:18
    क‍ि गिट या गिटहब का प्रयोग कैसे करें
  • 2:18 - 2:19
    और कैसे रिक्‍वेस्‍ट पुल करें
  • 2:19 - 2:21
    वे सामान्‍यत: यह जानते हैं और
  • 2:21 - 2:23
    इससे मेरा काम सरल हो जाता है
  • 2:23 - 2:25
    जब हमनें गिट हब का माहौल बनाया
  • 2:26 - 2:28
    हमनें अपने दल में सबको उस तक पहुंच दी
  • 2:28 - 2:30
    ताकि एक टेस्‍टर
  • 2:30 - 2:32
    पुल रिक्‍वेस्‍ट के लिंंक पर क्लिक कर सके
  • 2:32 - 2:35
    और सारे बदलावों को पढ़़ सके
  • 2:35 - 2:39
    यह फीचर्स काे समझने में बहुत सहायक होता है
  • 2:39 - 2:41
    क्‍योंक‍ि कभी एक अभियंता का बताया हुआ
  • 2:41 - 2:45
    बहूत आसान लगता है और जब आप कोड खोलते हैं
  • 2:45 - 2:47
    तो आप पाते हैं कि
  • 2:47 - 2:51
    एक छोटा बदलाव बीस पृष्‍ठों को छूता है
  • 2:51 - 2:54
    टेस्‍टर्स के लिए ये काम की जानकारी है
  • 2:54 - 2:56
    हम काम में जायज ढंग से बेहतर हैं
  • 2:56 - 2:58
    क्‍याेेंकि हमेंं पता है क्‍या चल रहा है
  • 2:59 - 3:01
    (संगीत)
  • 3:03 - 3:04
    हमारे पास संधान कक्ष नहीं हैं
  • 3:04 - 3:06
    हमें एक दूसरे के विभागों में
  • 3:06 - 3:08
    काम करने के लिए प्रेरित किया जाता है
  • 3:08 - 3:10
    और हमारी मेलचिंप यूनिवर्सिटी नाम से
  • 3:10 - 3:11
    एक कक्षा लगती है
  • 3:11 - 3:15
    ये कक्षाएं अंंतर्वैयक्तिक और
  • 3:15 - 3:18
    नेतृत्‍च के कौशल पर केन्द्रित होती है
  • 3:18 - 3:21
    हमने जाना कि चाहे-अनचाहे विकास हो रहा है
  • 3:21 - 3:23
    और इससे हमारी संस्‍कृति पर प्रभाव पड़ेगा
  • 3:23 - 3:26
    हमें एक ठोस और सुसंगत तरीका खोज रहे थे
  • 3:26 - 3:28
    अपने स्‍टाफ को काम पर लगाने के लिए
  • 3:28 - 3:30
    और उन्‍हें उपकरण देने के लिए
  • 3:30 - 3:32
    जो हर स्‍तर पर बढ़ने में उन्‍हें सक्षम करे
  • 3:32 - 3:34
    मैंं सोचता हूं ये विकल्‍प हैं
  • 3:34 - 3:36
    सबसे अच्‍छी बात मुझे लगती है क‍ि
  • 3:36 - 3:37
    दल को विकसित करते हुए
  • 3:37 - 3:39
    यह हमारी संस्‍कृति को बनाये रखने में
  • 3:39 - 3:41
    हमारी मदद करती है
  • 3:41 - 3:41
    सभी कक्षाएं
  • 3:41 - 3:43
    मेलच‍िंंप संस्‍कृति के अनुसार हैं
  • 3:43 - 3:46
    दूसरी पसंदीदा बात कि यह सबके लिए है
  • 3:46 - 3:48
    व्‍यक्तिगत सहयोगी और प्रबंंधक
  • 3:48 - 3:50
    मुख्‍य संचार कौशल सीखेंगे क‍ि
  • 3:50 - 3:53
    कैसे सही प्रकार से सुनें और
  • 3:53 - 3:54
    कैसे जानबूझकर सुनें से लेकर
  • 3:54 - 3:58
    कैसे प्रभावी ढंग से प्रतिक्रिया दें
  • 3:58 - 4:01
    सूचना पर ध्‍यान देकर और भावुक हुए बिना तक
  • 4:01 - 4:03
    यह एक तरह से मेलचिंंप यूनिवर्सिटी का
  • 4:03 - 4:05
    पूरे स्‍टाफ के लिए पाठ्यक्रम सार है
  • 4:05 - 4:07
    एक ऐसी कंपनी होना बहुत अच्‍छी बात है
  • 4:07 - 4:10
    जो संंस्‍थाओं के मध्‍य सीमाएं तोड़कर
  • 4:10 - 4:11
    संवाद स्‍थापित करती है
  • 4:11 - 4:14
    एक कंपनी जो अपने कर्मचारियों के
  • 4:14 - 4:15
    विकास को प्रोत्‍साहित करती है
  • 4:15 - 4:17
    हमने बहुत अच्‍छा काम किया है
  • 4:17 - 4:19
    यह सुनने का प्रयास करके क‍ि
  • 4:19 - 4:20
    लोगों को इस समय क्‍या चाह‍िए
  • 4:20 - 4:22
    जब वे जरूरतें बदल जाएं तो
  • 4:22 - 4:23
    उन्‍हें विकि‍सित करें
  • 4:23 - 4:24
    आप जो भी निर्णय लेते हैं
  • 4:24 - 4:26
    उसका तरंग प्रभाव होता है
  • 4:26 - 4:27
    मु‍झे नहीं लगता क‍ि
  • 4:27 - 4:29
    हम इस मामले में अनूठे हैं
  • 4:29 - 4:30
    मैं सोचती हूं क‍ि इन समस्‍याओं को
  • 4:30 - 4:32
    हल करने का तरीका मेलचिंंप संस्‍कृति को
  • 4:32 - 4:34
    बनाये रखने में खास है
  • 4:34 - 4:35
    लोगों ने किसी कारण से
  • 4:35 - 4:37
    यहां काम करने का फैसला किया
  • 4:37 - 4:39
    और हम सुनिश्‍चित करना चाहते हैं कि
  • 4:39 - 4:40
    हम वे कारण कायम रखें
  • 4:40 - 4:43
    दरअसल मुझे मेलच‍िंंप की ओर आकर्षित किया
  • 4:43 - 4:45
    रचनाशील लोगों से जुड़ने की मेरी लालसा ने
  • 4:45 - 4:47
    जहां से मैं उनसे कुछ सीख सकूं
  • 4:47 - 4:48
    हम साथ में सहयोग कर सकें
  • 4:48 - 4:50
    और डेवलपर के रूप में अपनी कला निखार सकूंं
  • 4:50 - 4:53
    एक समूह का हिस्‍सा बनूंं जो
  • 4:53 - 4:55
    इसे उत्‍पाद के मूल्‍य के रूप में देखता है
  • 4:55 - 4:57
    (थिरकना, ताली बजाना और हंसना)
  • 4:58 - 5:00
    (संगीत समाप्‍त होता है)
  • 5:09 - 5:12
    (संगीत)
Title:
Octotales: MailChimp
Description:

more » « less
Video Language:
English
Team:
GitHub
Project:
OctoTales
Duration:
05:31

Hindi subtitles

Revisions Compare revisions