Hindi subtítulos

← बच्चों की परवरिश कैसे करें जो चिंता को दूर कर सकते हैं

Obtener código incrustado.
36 idiomas

Mostrar Revisión15 creada 06/08/2020 por Arvind Patil.

  1. एक बच्चे के रूप में, मुझे कई डर थे।
  2. मैं बिजली, कीड़ों,
  3. तेज़ शोर की आवाजों और वेशभूषा
    वाले पात्रों से डरती थी
  4. मुझे दो बहुत गंभीर फोबिया (भय) भी थे
  5. डॉक्टरों और इंजेक्शन के |
  6. हमारे परिवार के डॉक्टर से दूर
    भागने के लिए मेरे संघर्ष के दौरान,
  7. मैं शारीरिक रूप से इतनी
    जुझारु ( लड़ाकू) बन गयी
  8. कि उन्होंने मुझे बेहोश करने के
    लिए वास्तव में मेरे थप्पड़ मारा |
  9. मैं छह साल की थी |
  10. उस वक़्त मैं फाइट और फ्लाइट प्रकार वाली थी,
  11. और मुझे एक साधारण-सा टीका लगाने के लिए
    तीन से चार बड़ों को शामिल होना पड़ता था,
  12. जिनमें मेरे माता - पिता भी शामिल होते थे |
  13. बाद में, हमारा परिवार न्यू यॉर्क
    से फ़्लोरिडा शिफ्ट हो गया

  14. जिस वक़्त मैं हाई स्कूल में पहुंची ही थी,
  15. और धर्म संस्थाश्रित स्कूल में
    एक नयी बच्ची होने,
  16. जो किसी को नहीं जानती
  17. और उस परिवेश में घुल पाने
    के बारे में चिन्तित है,
  18. स्कूल के पहले ही दिन,
  19. एक शिक्षिका रोल्स ले रही थीं और
    उन्होंने आवाज लगाई " ऐनी मैरी अल्बानो, "
  20. मैंने जवाब दिया (स्टेटन
    द्वीपीय लहज़े में ) "यहाँ हूँ (हियर ) !"
  21. वह हसीं और कहा, " ओह, खड़ी होना |
  22. कहो D-O-G|"
  23. और मैंने उत्तर दिया, (स्टेटन
    द्वीपीय लहज़े में ) "डॉग? "
  24. पूरी कक्षा शिक्षिका के साथ में
    बहुत ज़ोर से हसने लगी |
  25. और यह ऐसा ही चलता रहा,
  26. क्यूंकि उनके पास मेरा मज़ाक
    बनाने के लिए बहुत से शब्द थे |
  27. मैं घर रोती हुई पहुंची |

  28. परेशान
  29. और न्यू यॉर्क वापिस जाने की भीख मांगती हुई
  30. या फिर किसी आश्रम |
  31. मैं इस स्कूल में वापिस नहीं
    जाना चाहती थी, कभी भी नहीं |
  32. मेरे माता -पिता ने मुझे सुना

  33. और मुझे कहा कि वे फिर से न्यू यॉर्क में
    मोन्सिन्योर ( सम्मानित शब्द ) ढूंढेंगे,
  34. पर मुझे हर रोज़ वहां ( स्कूल ) जाना पड़ेगा
    ताकि मेरे पास अटेंडेंस का रिकॉर्ड हो
  35. जिससे मुझे स्टेटन आईलैंड के लिए
    नवीं कक्षा में ट्रांसफर मिल सके |
  36. यह सब कुछ ईमेल और सेल फ़ोन
    के आने से पहले था,
  37. तो कुछ हफ्तों बाद,
  38. अनुमानित रूप से, मॅन हटन मियामी
    के प्रधान पादरी और
  39. और व्हे0 कन के भी
  40. के बीच पत्र भेजे गए,
  41. और हर दिन, मुझे स्कूल रोते हुए जाना पड़ता
    और फिर घर भी रोते हुए आती
  42. जिसके बाद मेरी मम्मी मुझे यह अपडेट देती
  43. कि " जब तक कि हम कोई जगह नहीं ढूंढ लेते
    तब तक स्कूल जाती रहो |"
  44. क्या मैं बुद्धू थी या क्या?

  45. ( हसीं )

  46. खैर, कुछ हफ्तों के बाद, एक दिन,
    स्कूल बस का इंतजार करते वक़्त,

  47. मुझे एक debbie नाम की लड़की मिली
  48. और उसने मुझे अपने दोस्तों से मिलाया |
  49. और वो मेरे दोस्त बन गए,
  50. और, खैर, पोप से छुटकारा मिला
  51. (हसीं )

  52. मैंने ढलने की शुरआत कर दी |

  53. मेरे पिछले तीन दशकों में बच्चों की
    चिंता (anxiety) को अध्ययन की शुरआत

  54. मेरी आत्म-समझ की ख़ोज से शुरू होती है
  55. और मैने काफी कुछ सीखा है |
  56. युवा लोगों के लिए, चिंता बचपन की
    सबसे ज्यादा कॉमन मानसिक स्थिति होती है |
  57. ये विकार (disorders ) चार साल की
    उम्र से शुरू होते हैं,
  58. और किशोरावस्था में, 12 युवाओं
    में से एक घर पर
  59. स्कूल में और साथियों के साथ कार्य करने की
    उनकी क्षमता में,
  60. इससे बुरी तरह से प्रभावित होता है |
  61. ये बच्चे बहुत डरते हैं
  62. चिन्तित होते हैं,
  63. सच में, उनकी चिंता के कारण
    शारीरिक रूप से असहज होते हैं |
  64. उनके लिए स्कूल में ध्यान दे पाना,
  65. आराम करना और मज़े करना,
  66. दोस्त बना पाना और वो काम करना
    जो बच्चों को करना चाहिए ,
  67. बहुत ही मुश्किल होता है |
  68. चिंता बच्चे के लिए दुख पैदा कर सकती है,
  69. और माता -पिता अपने बच्चे के संकट
    की साक्षी (witness ) होते हैं |
  70. जैसे -जैसे मैं अपने काम के माध्यम से
    अधिक से अधिक चिंता वाले बच्चों से मिली,

  71. मुझे अपने मम्मी -पापा के पास वापिस
    जाकर उनसे कुछ सवाल पूछने पड़े|
  72. " आपने मुझे पकड़कर क्यों रखा
  73. जब मैं इंजेक्शन लगने से इतनी डरी हुई थी
  74. और मुझे जबरदस्ती उन्हें क्यों लगाया?
  75. और मुझे बताइये कि आपने मुझे स्कूल भेजनें
    के लिए वो लम्बी कहानियाँ क्यों बनायीं
  76. जब मैं दुबारा बेइज्जती करे जाने के
    बारे में इतनी परेशान थी? "
  77. उन्होंने कहा, " हमारा दिल तुम्हारे
    लिए हर बार टूटता था,
  78. पर हम जानते थे कि ये वो चीजें हैं
    जो तुम्हे करनी ही पड़ेंगी
  79. हमें तुम्हे उदास होने के
    इस खतरे में डालना पड़ा
  80. जब तक हमने ये इंतजार किया कि
    तुम समय और अनुभवों के साथ
  81. इस स्थिति की आदी हो जाओ
  82. तुम्हे टीका लगवाना जरुरी था |
  83. तुम्हारा स्कूल जाना जरुरी था |"
  84. मेरे माता -पिता नहीं जानते थे,

  85. पर वो मुझे खसरे का टीका लगवाने
    से ज्यादा कुछ कर रहे थे |
  86. वे मुझे जीवनभर के चिंता विकारों
    का भी टीका लगा रहे थे |
  87. बच्चे में बहुत ज्यादा चिंता एक
    सुपरबग की तरह है -
  88. और संक्रामक, बल्कि दोगुना होने वाले |
  89. इस तरह कि बहुत से बच्चे
    जिन्हे मैं देखती हूँ
  90. एक ही समय पर एक से ज्यादा
    चिंतामय स्थिति के साथ आते हैं |
  91. उदाहरण के लिए,
    उन्हें एक विशिष्ट फोबिया होगा
  92. साथ में अलगाव की चिंता साथ में
    सामाजिक चिंता सब कुछ एक साथ |
  93. जो कि अनुपचारित रह जाता है,
  94. बचपन की चिंता युवावस्था में डिप्रेशन
    का रूप ले सकती है |
  95. यह मादक द्रव्यों के सेवन और आत्महत्या
    के लिए योगदान दे सकता है |
  96. मेरे माता-पिता चिकित्सक नहीं थे।

  97. मेरे माता-पिता चिकित्सक नहीं थे।
  98. वे केवल इतना जानते थे कि ये स्थितियां
    मेरे लिए असहज हो सकती हैं,
  99. परन्तु वे ख़तरनाक नहीं हैं |
  100. अगर उन्होंने मुझे इन स्थितियों को
    नज़रअंदाज़ करने दिया और इनसे बचने दिया
  101. और यदि मैंने यह नहीं सीखा कि
    प्रासंगिक संकट को कैसे सहें तो
  102. मेरी अत्यधिक चिंता मुझे लंबी अवधि में
    अधिक नुकसान पहुँचाएगी |
  103. तो संक्षेप में, माँ और पिताजी घर पर ही
    अपनी तरह की
  104. एक्सपोज़र थेरेपी कर रहे थे
  105. जो कि चिंता के cognitive behavioural
    treatment का
  106. केंद्रीय और प्रमुख घटक है
  107. मेरे सहयोगियों और मैंने, 7 से 17 साल के
    बच्चों के चिंता (anxiety ) के इलाजों का

  108. सबसे बड़ा यादृच्छिक (randomized )
    अध्ययन किया |
  109. हमने पाया कि बच्चे पर आधारित
    cognitive behavioural एक्सपोज़र थेरेपी
  110. या फिर एक चुनिंदा
    serotonin reuptake inhibitor के साथ दवाई
  111. 60 प्रतिशत उपचारित युवाओं
    के लिए प्रभावी हैं |
  112. और दोनों का मेल 80 प्रतिशत बच्चों को
    3 महीनों में ठीक कर देता है |
  113. यह सारी अच्छी खबरें हैं |
  114. और अगर वे दवाईंयां लेते रहते हैं
  115. या मासिक एक्सपोज़र ट्रीटमेंट करते हैं
    जैसा कि हमने अध्ययन के दौरान करा,
  116. वे आगे के सालों के लिए भी
    बिलकुल ठीक रह सकते हैं |
  117. हालांकि, इस ट्रीटमेंट के बाद
    अध्ययन खत्म हो गया था,
  118. पर हम वापिस गए और पार्टिसिपेंट्स के
    साथ एक follow-up स्टडी करी,
  119. और हमने पाया कि इनमें से बहुत से
    बच्चे समय के साथ दुबारा वैसे ही हो गए
  120. और, बेस्ट सबूतों पर आधारित
    ट्रीटमेंट के बावजूद भी,
  121. हमने यह भी पाया कि 40 प्रतिशत
    चिंता वाले बच्चे,
  122. वे उस पूरे समय के दौरान भी
    इस से ग्रसित रहे |
  123. हमने इन नतीजों के बारे मैं बहुत सोचा |

  124. हम कहाँ चूक रहे थे?
  125. हमने इसके कारण की परिकल्पना करी
    कि क्यूंकि हम
  126. सिर्फ बच्चे पर केंद्रित हस्तक्षेप
    पर ध्यान केंद्रित कर रहे थे,
  127. शायद वहाँ कुछ महत्वपूर्ण है
    माता-पिता को संबोधित करने के बारे में
  128. और उन्हें भी उपचार में शामिल
    करने के बारे में |
  129. मेरी अपनी लैब और दुनिया भर के
    सहयोगियों के अध्ययन

  130. ने एक सुसंगत प्रवृत्ति दिखायी है:
  131. अभिभावक
    अक्सर अनजाने में तैयार हो जाते हैं
  132. इस चिंता के चक्र में |
  133. वे देते हैं, और वे अपने बच्चे के लिए
    बहुत से बदलाव करते हैं,
  134. और वे अपने बच्चों को इन चुनौतीपूर्ण
    स्थितियों से बचने देते हैं
  135. मैं चाहती हूं कि आप इसके बारे में
    इस तरह सोचें:
  136. आपका बच्चा घर में आँसुओं से
    रोता हुआ आता है
  137. वे पाँच या छह साल की उम्र का है |
  138. "मुझे स्कूल में कोई भी पसंद नहीं
    करता ! ये बच्चे मतलबी हैं |
  139. कोई भी मेरे साथ नही खेलेगा |"
  140. आप अपने बच्चे को उदास देख कर कैसा
    महसूस करते हैं?
  141. आप क्या करते हैं?
  142. प्राकृतिक पेरेंटिंग वृत्ति है कि उस बच्चे
    को सांत्वना देना, उन्हें शांत करना,
  143. उनकी रक्षा करना और स्थिति को ठीक करना |
  144. बीच-बचाव करने के लिए शिक्षक को बुलाना
    या अन्य माता-पिता को
  145. खेल की व्यवस्था करने के लिए,
    यह शायद पाँच वर्ष की उम्र में तो ठीक है |
  146. लेकिन अगर आपका बच्चा आंसुओं में दिन
    रात घर आता रहता है तब आप क्या करेंगे ?
  147. क्या आप 8, 10, 14 वर्ष की उम्र में भी
    उनके लिए सब कुछ ठीक करते हैं?
  148. बच्चों के लिए, जैसे जैसे वे विकसित
    हो रहे होते हैं
  149. वे हमेशा ही चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों का
    सामना करने जा रहे हैं :
  150. नींद, मौखिक रिपोर्ट,
  151. एक चुनौतीपूर्ण परीक्षा जो एक दम से आती है,
  152. एक खेल टीम के लिए प्रयास करना
    या स्कूल के खेल में एक जगह,
  153. साथियों से टकराव ...
  154. इन सभी स्थितियों में जोखिम शामिल है:
  155. अच्छा नहीं करने का,
    वे जो चाहते हैं, वह नहीं मिलने का जोखिम,
  156. गलतियां करने का जोखिम
  157. शर्मिंदगी का जोखिम |
  158. चिंता वाले बच्चे

  159. जो जोखिम नहीं लेते और शामिल नहीं होते हैं,
  160. फिर वे यह नहीं सीख पाते कि इस प्रकार
    की स्थितियों का सामना कैसे करें |
  161. सही कहा ना?
  162. क्योंकि कौशल समय के साथ विकसित होता है,
  163. बच्चों के सामने रोज़ दोहराकर आने
    वाली परिस्थितियों से :
  164. आत्म-सुखदायक कौशल
  165. या उदास होने पर अपने आप को
    शांत करने की क्षमता;
  166. समस्या को सुलझाने के कौशल,
  167. दूसरों के साथ संघर्ष को हल करने की
    क्षमता के साथ;
  168. संतुष्टि की देरी,
  169. या अपने प्रयासों को जारी रखने की क्षमता
  170. इस तथ्य के बावजूद कि आपको परिणाम
    देखने के लिए समय का इंतजार करना पड़ेगा |
  171. ये और कई अन्य कौशल
    बच्चों में विकसित होते हैं
  172. जो जोखिम लेते हैं और शामिल होते हैं |
  173. और सेल्फ - एफ्फिकेसी आकार लेती है,
  174. जो, सीधे शब्दों में कहें तो,
    अपने आप में विश्वास है
  175. कि आप चुनौतीपूर्ण स्थितियों से
    निपट सकते हैं |
  176. चिंता से ग्रस्त बच्चों के लिए जो इन
    स्थितियों से बचते हैं और दूर भागते हैं

  177. और अन्य लोगों से उनके लिए करवाते हैं
  178. वे समय के साथ और अधिक चिन्तित हो जाते हैं
  179. साथ ही, खुद पर कम भरोसा रखने वाले भी |
  180. अपने साथियों के विपरीत
    जो चिंता से ग्रस्त नहीं हैं,
  181. वे मान लेते हैं कि वे इन स्थितियों का
    प्रबंधन करने में असमर्थ हैं |
  182. उन्हें लगता है कि उन्हें किसी की
    ज़रूरत है,कोई अपने माता-पिता की तरह,
  183. जो उनके लिए उनका काम कर दे |
  184. अब, जबकि प्राकृतिक पेरेंटिंग वृत्ति ही
    यह है कि बच्चे को आराम तथा सुरक्षा और

  185. आश्वासन दें,
  186. 1930 में, मनोचिकित्सक Alfred Adler ने
  187. पहले ही माता -पिता को चेताया था
  188. कि हम एक बच्चे को जितना प्यार करना
    चाहें उतना कर सकते हैं,
  189. पर हमें इस बच्चे को कभी भी (हम पर )
    निर्भर नहीं बनाया चाहिए |
  190. उन्होंने माता -पिता को सुझाया कि
    उन्हें बच्चों को शुरुआत से ही train करना
  191. शुरू कर देना चाहिए कि
    वे खुद के पैरों पर खड़े रहें |
  192. उन्होंने यह भी चेताया कि
    अगर बच्चों को आभास हो जाए
  193. कि उनके माता -पिता के पास उन्हें गोदी लेने
    और बुलाने पर आने की
  194. तुलना में कोई बेहतर काम नहीं है
    वे प्यार का एक गलत विचार हासिल करेंगे।
  195. इन दिनों और वक़्त में चिंता वाले बच्चे,

  196. वे हमेशा अपने माता -पिता को
    बुला रहे होते हैं
  197. या उन्हें पूरे दिन और रात संकट
    की कॉल देते रहते हैं |
  198. तो अगर चिंता वाले बच्चे छोटे से ही
    प्रॉपर झूझने के तरीकों को नहीं सीखते हैं
  199. फिर उनके बड़े होने पर उनके साथ
    क्या होता है?
  200. मैं चिंता विकारों के साथ युवा वयस्कों के
    माता -पिता के लिए समूह चलाती हूँ |

  201. इन युवाओं की उम्र 18 से 28 के बीच है |
  202. वे ज्यादातर घर पर रहते हैं,
  203. अपने माता - पिता पर निर्भर |
  204. उनमें से बहुत, संभव है कि स्कूल
    और कॉलेज गए हों |
  205. कुछ ग्रेजुएटड भी हैं |
  206. ज्यादातर सब ही काम नहीं कर रहे हैं,
  207. केवल घर पर ही रहते हैं और
    ज्यादा कुछ नहीं करते |
  208. उनके दूसरों के साथ अर्थपूर्ण
    (meaningful ) सम्बन्ध नहीं हैं,
  209. और वे बहुत ज्यादा अपने
    माता -पिता पर आधारित हैं
  210. जो उनके लिए उनके सारे काम करते हैं |
  211. उनके माता -पिता अभी तक उनके लिए
    उनके डॉक्टर के अपॉइंटमेंट करवाते हैं |
  212. वे बच्चों के पुराने दोस्तों को कॉल करते
    हैं और उनसे मिलने आने की विनती करते हैं |
  213. वे बच्चों की लॉन्ड्री करते हैं और
    उनके लिए खाना बनाते हैं |
  214. और वे अपने युवा वयस्क के साथ
    बहुत द्वंद में हैं,
  215. क्यूंकि चिंता विकसित हो चुकी है
    परन्तु युवा नहीं |
  216. इन माता-पिता को भारी अपराधबोध
    महसूस होता है,
  217. लेकिन फिर आक्रोश,
  218. और फिर अधिक अपराध बोध।
  219. अच्छा, कुछ अच्छी खबर
    के बारे में क्या ख्याल है?

  220. अगर बच्चे के माता -पिता और
    उसके जीवन के मुख्य लोग
  221. उनके डर का सामना करने के लिए,
    समस्या सुलझाना सीखने में
  222. बच्चे की मदद कर सकते हैं,
    उनकी सहायता कर सकते हैं|
  223. फिर ये ऐसा है कि बच्चों की चिंता का प्रबंध
    करने के लिए उनके आंतरिक कोपिंग तंत्र
  224. का वे विकास करने जा रहे हैं |
  225. हम अब माता-पिता को हर पल सावधान
    रहना सिखाते हैं
  226. और अपने बच्चे की चिंता के लिए
    उनकी प्रतिक्रिया को सोचने को कहते हैं |
  227. हम उनसे पूछते हैं,
  228. "स्थिति को देखो और पूछो,
    'यह स्थिति क्या है?
  229. मेरे बच्चे के लिए यह कितना खतरनाक है?
  230. और आखिरकार मैं इससे
    उन्हें क्या सिखाना चाहता हूँ? "
  231. अब, निश्चित रूप से, हम चाहते हैं
    कि माता -पिता ध्यान से सुनें |

  232. अगर एक बच्चे को गंभीर रूप से धमकाया
    जा रहा है या नुकसान में डाला जा रहा है,
  233. हम चाहते हैं कि माता-पिता
    हस्तक्षेप करें,
  234. पूर्ण रूप से |
  235. परन्तु आम तौर पर, हर रोज़ चिंता पैदा
    करने वाली परिस्थितियों में,
  236. माता -पिता उनके बच्चे के लिए सबसे
    अधिक उपयोगी हो सकते हैं
  237. अगर वे शांत रहें और matter-of-fact
    and warm बने रहें,
  238. यदि वे बच्चे की भावनाओं को मान्य करते हैं
  239. लेकिन फिर बच्चे की मदद करें,
  240. बच्चे की योजना बनाने में उनकी सहायता करें
    कि कैसे वे स्थिति का प्रबंधन करें
  241. और फिर -- यही यह कुंजी है -
  242. जिससे बच्चा वास्तव में खुद स्थिति
    से निपट सके |
  243. बेशक, यह दिल तोड़ने वाला है एक बच्चे को
    इस प्रकार परेशान होते हुए देखना,

  244. जैसा कि मेरे माता-पिता ने
    मुझे वर्षों बाद बताया,
  245. जब आप अपने बच्चे को पीड़ा में देखते हैं
  246. लेकिन आपको लगता है कि आप बीच में आ सकते
    हैं और उन्हें इसके दर्द से बचा सकते हैं,
  247. यही सब कुछ है, ठीक ?
  248. यही हम करना चाहते हैं।
  249. पर चाहें हम छोटे हों या बड़े,
  250. अत्यधिक चिंता हमें जोखिम और संकट को
    बड़ा मनवाती है
  251. और सामना करने की हमारी क्षमता को कम |
  252. हम जानते हैं कि जिससे हम डरते हैं उसको
    बार -बार दोहराने से चिंता कम होती है,
  253. और संसाधन और लचीलापन बढ़ता है|
  254. मेरे माता -पिता ऐसा ही कुछ कर रहे थे

  255. आज के हाइपर-चिंताशील युवाओं की
    अत्यधिक सुरक्षात्मक पेरेंटिंग द्वारा
  256. मदद नहीं की जा रही है|
  257. शांति और आत्मविश्वास
    सिर्फ भावनाएं नहीं हैं।
  258. वे सामना कर पाने के कौशल हैं
    जिन्हे माता -पिता और बच्चे सीख सकते हैं |
  259. धन्यवाद

  260. (तालियाँ)