Hindi subtitles

← छुपे हुए तरीके जिन पर सीढ़ियाँ आपके जीवन को आकार देती हैं

सीढियाँ आपको केवल बिंदु A से बिंन्दु B पर नहीं ले जातीं। वास्तुविद डेविड रॉकवेल समझाते हैं कैसे वे आपकी गति और - आपकी भावनाओं को आकार देते हैं।

Get Embed Code
37 Languages

Showing Revision 50 created 04/10/2018 by Arvind Patil.

  1. मैं सोचता हूँ,सीढ़ियाँ
  2. सबसे अधिक भावनात्मक रूप से एक
    लचीली भौतिक तत्व है
  3. जिस पर वास्तुविद काम
    करता है
  4. [छोटी चीज़ें,बड़े विचार ]

  5. [डेविड रॉकवेल सीढ़ियों पर]

  6. इसके सबसे मूल में,एक सीढ़ी रास्ता है बिंदु
    A से बिंदु B तक जाने के लिए

  7. विभिन्न स्तरो पर।
  8. सीढ़ियों की एक सामान्य भाषा है।
  9. ट्रेड्स,वह चीज़ जिस पर आप चलते हैं।
  10. राइज़र,उर्ध्व तत्व है जो दो ट्रेड्स को अलग
    करता है।
  11. कई नोज़िंग होते हैं जो एक प्रकार के
    किनारे का निर्माण करते हैं।
  12. और फिर,जोड़नेवाला टुकड़ा एक स्ट्रिंगर है।
  13. ये टुकड़े,विभिन्न रूपों में,सभी सीढ़ियों
    को बनाते हैं।
  14. मैं मानता हूँ कि सीढियाँ आई होंगी जब
    किसी ने पहली बार कहा ,

  15. "मैं इस ऊँचे पत्थर पर नीचे के पत्थर से
    जाना चाहता हूँ। "
  16. लोग जो भी उपलब्ध हो
    उसी के उपयोग से चढ़ते थे :
  17. लकड़ी के लट्ठे ,सीढियाँ
  18. और प्राकृतिक रास्ते जो कि
    समय के साथ टूट गए।
  19. शुरुवात की कुछ सीढियाँ चिचेन इत्सा के
    पिरामिड की तरह थी।
  20. या चीन के माउंट ताई पर जाने वाले
    मार्ग की तरह ,
  21. जो ऊँचे स्तरों पर जाने के लिए हैं ,
  22. जहाँ लोग पूजा या सुरक्षा के लिए जाते हों।
  23. जैसे अभियांत्रिकी विकसित होती गयी,वैसे ही
    इसकी व्यवहारिकता भी।

  24. सीढियाँ सभी प्रकार की सामग्रियों से बनाई
    जा सकती हैं।
  25. यहाँ पर रेखाकार सीढियाँ हैं,
    घुमावदार सीढियाँ हैं।
  26. सीढियाँ आंतरिक भी हो सकती हैं,
    बाह्य हो सकती हैं।
  27. वे निश्चित रूप से आपातकाल में मदद
    करती हैं।
  28. पर वे अपने आप में और स्वयं भी
    एक कला का रूप हैं।
  29. जैसे हम सीढ़ियों पर चलते हैं ,

  30. उसका रूप नियंत्रित करता है हमारे गति,
    भावना ,हमारी सुरक्षा
  31. हमारे रिश्ते और जुड़ाव हमारे आसपास
    के स्थान के साथ।
  32. तो एक सेकंड लिए,एक क्रमिक,स्मारकीय सीढ़ी
    पर चलने को सोचिये
  33. न्यूयार्क सार्वजानिक ग्रंथालय के सामने
  34. उन पदों से ,
  35. आप के पास पुरे सड़क का और आपके
    आसपास का नज़ारा होता है।
  36. और आपका चलना धीमा और सधा हुआ होता है
    क्योंकि उसका ट्रेड इतना चौड़ा है।
  37. यह की पूरी तरह से अलग ही अनुभव है
  38. एक सकरे सीढ़ी पर नीचे चलने से
    जैसे कि ,एक पुराना पब ,
  39. जहाँ आप कमरे में फैल जाते हैं।
  40. यहाँ पर,आप लम्बे राइज़र्स का सामना करते
    हैं, तो आप और जल्दी से चलते हैं।
  41. सीढ़ियाँ बड़े नाटक जोड़ती हैं।

  42. सोचिये कैसे सीढियाँ एक भव्य प्रवेश की ओर
    इशारा करती हैं
  43. और उस क्षण की सितारा होती थीं।
  44. सीढियाँ वीरतापूर्ण हो सकती हैं।
  45. सीढियाँ जो ११ सितम्बर के बाद भी खड़ी हैं
  46. और वर्ल्ड ट्रैड सेंटर पर आक्रमण
  47. को "बची हुई सीढ़ियाँ " कहा गया ,
  48. क्योंकि इसने मुख्य किरदार निभाया था,
    सैंकड़ों लोगो की सुरक्षा में।
  49. पर छोटी सीढ़ियाँ का भी बहुत प्रभाव पड़ता है।

  50. स्टूप स्थान है जो पड़ोसियों को
    इकट्ठा होने आमंत्रित करता है ,
  51. संगीत और गति में शहर को देखना।
  52. यह मुझे आकर्षित करता है कि लोग सीढ़ियों पर
    मुलाकात करना चाहते हैं।
  53. मैं सोचता हूँ कि वे एक गहरी मानव ज़रूरत को
    पूरा करते हैं
  54. एक स्थान पर रहने की जो मैदानी क्षेत्र से
    अधिक हो।
  55. और इसलिए यदि आप आधे रस्ते में बैठने में
    सक्षम हैं ,
  56. आप एक प्रकार के चमत्कारिक स्थान पर हैं।