Return to Video

जलवायु परिवर्तन कैसे हमारे भोजन को कम पौष्टिक बना सकता है

  • 0:02 - 0:07
    योगी बेर्रा, एक अमेरिकी बेसबॉल खिलाड़ी
    और दार्शनिक, ने कहा,
  • 0:07 - 0:10
    "अगर हम नहीं जानते कि हम कहाँ जा रहे हैं,
    हम वहां नहीं पहुंच सकते। ”
  • 0:12 - 0:16
    वैज्ञानिक ज्ञान का संग्रह
    हमें अधिक जागरूकता दे रहा है,
  • 0:16 - 0:21
    बदलती जलवायु में हमारा भविष्य कैसा
    दिख सकता है, इसकी अधिक स्पष्टता
  • 0:21 - 0:23
    और हमारे स्वास्थ्य के लिए इसका
    क्या अर्थ होगा
  • 0:24 - 0:27
    मैं इससे संबंधित पहलू के बारे में
    बात करने के लिए यहाँ हूँ,
  • 0:27 - 0:32
    जीवाश्म ईंधन के जलने से ग्रीनहाउस
    गैसों का उत्सर्जन
  • 0:32 - 0:36
    हमारे भोजन की पोषण गुणवत्ता
    को कैसे कम कर रहा है।
  • 0:37 - 0:39
    हम भोजन पिरामिड से शुरुआत करेंगे।
  • 0:39 - 0:41
    आप सभी फूड पिरामिड तो जानते हैं।
  • 0:41 - 0:44
    हम सभी को संतुलित आहार खाने
    की जरूरत है
  • 0:44 - 0:45
    हमें प्रोटीन पाने की जरुरत है
  • 0:45 - 0:47
    हमें सूक्ष्मपोषक तत्व पाने है
  • 0:47 - 0:48
    हमें विटामिन पाने है
  • 0:48 - 0:51
    और इसलिए, यह हमारे लिए
    सोचने का एक तरीका है
  • 0:51 - 0:54
    कि हम कैसे सुनिश्चित करें
    हमें हर दिन क्या चाहिए
  • 0:54 - 0:56
    ताकि हम उगा सके और बढ़ाये
  • 0:56 - 0:59
    लेकिन हम सिर्फ इसलिए नहीं खाते कि
    हमें इसकी जरूरत है
  • 0:59 - 1:01
    हम आनंद के लिए भी खाते हैं
  • 1:01 - 1:04
    ब्रेड, पास्ता, पिज्जा -
  • 1:04 - 1:08
    खाद्य पदार्थों की एक पूरी श्रेणी है
    जो सांस्कृतिक रूप से महत्वपूर्ण हैं
  • 1:08 - 1:09
    हमें इन्हे खाने में मजा आता है
  • 1:10 - 1:12
    और इसलिए वे हमारे आहार के
    लिए महत्वपूर्ण हैं,
  • 1:13 - 1:15
    लेकिन वे हमारी संस्कृतियों के लिए
    भी महत्वपूर्ण हैं
  • 1:16 - 1:21
    औद्योगिक क्रांति शुरु के बाद से
    कार्बन डाइऑक्साइड बढ़ रहा है
  • 1:21 - 1:27
    प्रति मिलियन में लगभग 280 भाग से
    आज 410 तक बढ़ गयी है,
  • 1:27 - 1:29
    और यह लगातार बढ़ रही है
  • 1:29 - 1:33
    पौधों के जरूरी कार्बन
    इसी कार्बन डाइऑक्साइड से आता है।
  • 1:33 - 1:35
    वे इसे पौधे में लाते हैं,
  • 1:35 - 1:38
    वे इसे स्वयं कार्बन में तोड़कर
    अलग करते हैं,
  • 1:38 - 1:40
    इसे विकसित करने के
    लिए उपयोग करते हैं
  • 1:41 - 1:43
    उन्हें मिट्टी से पोषक तत्वों की
    भी जरूरत होती है
  • 1:44 - 1:48
    कार्बन डाइऑक्साइड पौधे का भोजन है
  • 1:49 - 1:54
    और यह अच्छी खबर होनी चाहिए,
    बढ़ती कार्बन डाइऑक्साइड संकेंद्रण की,
  • 1:54 - 1:57
    दुनिया भर में खाद्य सुरक्षा के लिए
  • 1:57 - 2:01
    यह सुनिश्चित करना कि लोगों को हर
    दिन खाने के लिए पर्याप्त मिले
  • 2:01 - 2:07
    दुनिया में करीब 820 मिलियन लोगों को
    हर दिन खाने के लिए पर्याप्त नहीं मिलता है।
  • 2:07 - 2:11
    तो वहाँ एक उचित राशि के बारे में लिखा है
    कि कैसे उच्चतर CO2
  • 2:11 - 2:13
    हमारे खाद्य सुरक्षा समस्या के साथ
    मदद करने जा रहा है
  • 2:14 - 2:19
    हमें कृषि उत्पादकता में अपनी प्रगति में
    तेजी लाने की जरूरत है
  • 2:19 - 2:23
    2050 में जीवित रहने वाले नौ से 10 बिलियन
    लोगों को खिलाने के लिए
  • 2:23 - 2:26
    और सतत विकास लक्ष्यों को
    प्राप्त करने के लिए,
  • 2:26 - 2:28
    विशेष रूप से लक्ष्य नंबर 2,
  • 2:28 - 2:31
    यह खाद्य असुरक्षा को कम करने,
  • 2:31 - 2:32
    पोषण बढ़ाने,
  • 2:33 - 2:36
    उन खाद्य पदार्थों तक पहुंच बढ़ाना है
    जो हमें सभी के लिए चाहिए
  • 2:36 - 2:41
    हम जानते हैं जलवायु परिवर्तन कृषि
    उत्पादकता को प्रभावित कर रहा है।
  • 2:41 - 2:43
    पृथ्वी लगभग एक डिग्री सेंटीग्रेड
    गर्म हो गई है
  • 2:43 - 2:46
    औद्योगीकरण से पहले के समय से
  • 2:46 - 2:50
    यह स्थानीय तापमान और वर्षा के
    पैटर्न को बदल रहा है,
  • 2:50 - 2:54
    और इसका कृषि उत्पादकता पर प्रभाव
  • 2:54 - 2:56
    दुनिया के कई हिस्सों में पड़ा है
  • 2:56 - 3:00
    और यह तापमान और वर्षा में
    सिर्फ स्थानीय परिवर्तन नहीं है,
  • 3:00 - 3:01
    यह चरम स्थिति है
  • 3:02 - 3:05
    कड़ी गर्मी ,बाढ़ और सूखे के
    संदर्भ में चरम सीमा
  • 3:05 - 3:09
    उत्पादकता को काफी प्रभावित कर रही हैं।
  • 3:11 - 3:13
    और वह कार्बन डाइऑक्साइड,के
  • 3:13 - 3:16
    पौधों को विकसित करने के अलावा,
  • 3:16 - 3:19
    अन्य परिणाम भी हैं,
  • 3:19 - 3:22
    वे पौधे, जब उनके पास उच्च कार्बन
    डाइऑक्साइड होता है,
  • 3:22 - 3:26
    कार्बोहाइड्रेट, शर्करा और स्टार्च के
    संकलन में वृद्धि,
  • 3:26 - 3:31
    वे प्रोटीन और महत्वपूर्ण पोषक तत्वों
    के संकलन को कम करते हैं और
  • 3:31 - 3:38
    यह बहुत महत्वपूर्ण है कि हम भविष्य की
    खाद्य सुरक्षा के बारे में कैसे सोचते हैं।
  • 3:39 - 3:42
    कुछ रात पहले
    जलवायु परिवर्तन पर टेबल टॉक में,
  • 3:42 - 3:46
    किसी ने कहा कि वे पांच-सातवें
    आशावादी हैं:
  • 3:46 - 3:49
    वे सप्ताह के पांच दिन आशावादी हैं,
  • 3:49 - 3:52
    और यह अन्य दो दिनों के
    लिए एक विषय है,जब
  • 3:53 - 3:55
    हम सूक्ष्मपोषक तत्वों के
    बारे में सोचते हैं
  • 3:55 - 4:00
    लगभग ये सभी उच्चतर CO2 संकेंद्रण
    से प्रभावित होते हैं।
  • 4:00 - 4:02
    विशेष दो में आयरन और ज़िंक हैं
  • 4:02 - 4:06
    जब आपको पर्याप्त आयरन नहीं मिलता, तो आप
    को आयरन की कमी से एनीमिया हो सकता है
  • 4:06 - 4:09
    यह थकान, सांस की तकलीफ के
    साथ जुड़ा हुआ है
  • 4:09 - 4:13
    और कुछ काफी गंभीर परिणाम भी हैं
  • 4:13 - 4:14
    जब आपको पर्याप्त ज़िंक नहीं मिलता है,
  • 4:14 - 4:17
    तो आपकी भूख कम हो सकती है।
  • 4:17 - 4:19
    यह दुनिया भर में एक महत्वपूर्ण
    समस्या है।
  • 4:19 - 4:22
    करीब एक अरब लोग ऐसे हैं
    जिनमें जिंक की कमी है।
  • 4:22 - 4:25
    यह मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य के
    लिए बहुत महत्वपूर्ण है।
  • 4:25 - 4:27
    यह विकास को प्रभावित करता है।
  • 4:28 - 4:32
    बी विटामिन कई कारणों
    से महत्वपूर्ण हैं।
  • 4:32 - 4:35
    ये हमारे भोजन को ऊर्जा में
    बदलने में मदद करते हैं।
  • 4:35 - 4:36
    ये हमारे शरीर में कई शारीरिक
  • 4:36 - 4:40
    गतिविधियों के कार्यों के लिए
    महत्वपूर्ण हैं।
  • 4:40 - 4:43
    और जब आपके पास पौधे में
    उच्च कार्बन होता है
  • 4:43 - 4:44
    तो आपके पास कम
    नाइट्रोजन होता है,
  • 4:44 - 4:46
    और आपके पास कम बी विटामिन होते है।
  • 4:47 - 4:48
    और यह सिर्फ हम ही नहीं है।
  • 4:48 - 4:50
    मवेशी पहले से ही प्रभावित
    हो रहे हैं
  • 4:50 - 4:54
    क्योंकि उनके चारे की गुणवत्ता
    में गिरावट आ रही है।
  • 4:54 - 4:57
    वास्तव में, यह पौधों के हर उपभोक्ता
    को प्रभावित करता है।
  • 4:57 - 5:01
    विचार करें उदाहरण के लिए,
    हमारे पालतू बिल्लियों और कुत्ते
  • 5:01 - 5:05
    यदि आप ज्यादातर पालतूपशु और कुत्ते
    के भोजन के लेबल को देखते हैं,
  • 5:05 - 5:09
    तो उन खाद्य पदार्थों में अनाज की एक
    महत्वपूर्ण मात्रा होती है।
  • 5:09 - 5:11
    तो यह सभी को प्रभावित करता है।
  • 5:11 - 5:14
    हम कैसे जानते हैं
    की यह एक समस्या है?
  • 5:14 - 5:16
    हमें क्षेत्र अध्ययन से पता चलता हैं
  • 5:16 - 5:19
    और हमें प्रयोगशालाओं में प्रयोगात्मक
    अध्ययन से पता चलता है।
  • 5:19 - 5:20
    क्षेत्र अध्ययन में -
  • 5:20 - 5:25
    मैं मुख्य रूप से गेहूं और चावल
    पर ध्यान केंद्रित करूंगी -
  • 5:25 - 5:27
    वहाँ खेतों, उदाहरण के लिए, चावल के
  • 5:27 - 5:29
    विभिन्न भूखंडों में विभाजित हैं।
  • 5:30 - 5:33
    और भूखंड सभी समान हैं:
  • 5:33 - 5:34
    मिट्टी समान है,
  • 5:34 - 5:36
    वर्षा समान है -
  • 5:36 - 5:38
    सब कुछ वैसा ही।
  • 5:38 - 5:42
    सिवाय इसके की कार्बन डाइऑक्साइड
    को कुछ भूखंडों पर उड़ाया जाता है।
  • 5:43 - 5:45
    और इसलिए आप तुलना कर सकते हैं
  • 5:45 - 5:48
    कि यह आज की परिस्थितियों में
    कैसा दिखता है
  • 5:48 - 5:53
    कार्बन डाइऑक्साइड की स्थितियों के तहत
    आने वाली सदी में
  • 5:53 - 5:56
    मैं उन कुछ अध्ययनों का एक हिस्सा थी,
    जिन्होंने यह किया है।
  • 5:56 - 6:01
    हमने चीन और जापान में 18 चावल
    की लाइनों को देखा
  • 6:01 - 6:04
    और उन्हें उन परिस्थितियों में
    विकसित किया जिनकी
  • 6:04 - 6:05
    आप आने वाली सदी में उम्मीद करेंगे।
  • 6:07 - 6:09
    और जब आप परिणामों को देखते हैं,
  • 6:09 - 6:12
    सफेद पट्टी आज की स्थिति है,
  • 6:12 - 6:16
    लाल पट्टी आने वाली सदी
    की स्थिति है
  • 6:17 - 6:21
    तो प्रोटीन में 10 प्रतिशत की गिरावट है ,
  • 6:21 - 6:25
    आयरन में आठ प्रतिशत, ज़िंक में
    लगभग पाँच प्रतिशत।
  • 6:25 - 6:28
    ये बहुत बड़े बदलावों की तरह
    नहीं लग रहे हैं,
  • 6:28 - 6:32
    लेकिन जब आप हर देश में गरीबों के
    बारे में सोचना शुरू करते हैं
  • 6:32 - 6:34
    जो मुख्य रूप से स्टार्च खाते हैं,
  • 6:34 - 6:37
    यह जो लोग किनारे पर हैं
  • 6:37 - 6:40
    उन्हें सीधे कमियों में डाल देगा
  • 6:40 - 6:42
    जिससे सभी प्रकार की स्वास्थ्य
    समस्याएं पैदा होंगी
  • 6:42 - 6:46
    बी विटामिन के लिए स्थिति
    अधिक महत्वपूर्ण है।
  • 6:46 - 6:50
    जब आप विटामिन बी 1 और
    विटामिन बी 2 को देखते हैं,
  • 6:50 - 6:52
    तो लगभग 17 प्रतिशत की गिरावट
    हुयी है।
  • 6:52 - 6:58
    पैंटोथेनिक एसिड, विटामिन बी 5 में ,
    करीब 13 प्रतिशत की गिरावट है।
  • 6:58 - 7:01
    फोलेट में लगभग 30 प्रतिशत
    की गिरावट है।
  • 7:01 - 7:05
    और ये उन विभिन्न प्रयोगों
    पर औसत हैं जो किए गए थे।
  • 7:05 - 7:09
    फोलेट बाल विकास के लिए महत्वपूर्ण है।
  • 7:09 - 7:11
    गर्भवती महिलाओं को पर्याप्त
    फोलेट नहीं मिलता
  • 7:11 - 7:14
    है ,जन्म के दोष वाले शिशुओं
    के होने का खतरा अधिक होता है
  • 7:15 - 7:20
    तो ये हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत
    गंभीर संभावित परिणाम हैं
  • 7:20 - 7:22
    जैसा कि CO2 में वृद्धि जारी है।
  • 7:24 - 7:25
    एक अन्य उदाहरण में,
  • 7:25 - 7:29
    यह मॉडलिंग का काम है जो क्रिस वेयंट और
    उनके सहयोगियों द्वारा किया गया था,
  • 7:29 - 7:34
    इस श्रृंखला में उच्च CO2 से निम्न आयरन
    और ज़िंक पर एक नज़र डालें -
  • 7:34 - 7:36
    और वे केवल आयरन और ज़िंक को देखते थे -
  • 7:36 - 7:38
    विभिन्न स्वास्थ्य परिणामों के लिए।
  • 7:38 - 7:42
    उन्होंने मलेरिया, डायरिया रोग, निमोनिया,
  • 7:42 - 7:44
    आयरन की कमी से होने वाले एनीमिया पर
  • 7:44 - 7:48
    ध्यान दिया और देखा कि 2050
    में इसके क्या परिणाम हो सकते हैं।
  • 7:48 - 7:50
    और इस में रंग जितना गहरा होगा,
  • 7:50 - 7:52
    परिणाम उतना ही बड़ा होगा।
  • 7:52 - 7:55
    तो आप प्रमुख प्रभाव देख सकते हैं,
  • 7:55 - 7:58
    एशिया और अफ्रीका में
  • 7:58 - 8:01
    लेकिन यह भी ध्यान दें कि संयुक्त राज्य
    अमेरिका जैसे देशों
  • 8:01 - 8:02
    और यूरोप के देशों
  • 8:02 - 8:04
    में भी आबादी प्रभावित हो सकती है।
  • 8:05 - 8:09
    उन्होंने अनुमान लगाया कि लगभग
    125 मिलियन लोग प्रभावित हो सकते हैं।
  • 8:10 - 8:14
    उन्होंने यह भी बनाया कि सबसे
    प्रभावी हस्तक्षेप क्या होगा,
  • 8:14 - 8:19
    और उनका निष्कर्ष हमारे ग्रीनहाउस
    गैसों को कम कर रहा था:
  • 8:19 - 8:22
    मध्य शताब्दी तक हमारे ग्रीनहाउस गैस
    उत्सर्जन को कम करना
  • 8:22 - 8:25
    इसलिए हमें आने वाली सदी में
    इन परिणामों के बारे में इतना
  • 8:25 - 8:27
    चिंतित होने की जरूरत नहीं है।
  • 8:29 - 8:31
    इन प्रयोगों, इन मॉडलिंग अध्ययनों ने
  • 8:31 - 8:34
    जलवायु परिवर्तन को अपने
    विचार के विषय में नहीं लिया

  • 8:34 - 8:37
    उन्होंने सिर्फ कार्बन डाइऑक्साइड
    घटक पर ध्यान केंद्रित किया।
  • 8:38 - 8:40
    इसलिए जब आपने दोनों को
    एक साथ रखा,
  • 8:40 - 8:43
    यह अपेक्षा की जाती है कि जो मैंने आपको
    बताया है उससे प्रभाव बहुत बड़ा है
  • 8:44 - 8:47
    मैं अभी आपको बताना चाहूंगी
  • 8:47 - 8:52
    आपने नाश्ते में कितना खाना खाया,
    और दोपहर में कितना खाने जा रहे हैं,
  • 8:52 - 8:55
    आपके दादा-दादी ने जो खाया,
    उससे बदल गया है
  • 8:55 - 8:57
    इसकी पोषण गुणवत्ता के संदर्भ में।
  • 8:58 - 8:59
    लेकिन मैं नहीं कर सकती
  • 8:59 - 9:02
    हमारे पास उस पर अनुसंधान
    नहीं है।
  • 9:02 - 9:05
    मैं आपको बताना चाहूंगी कि इन
    परिवर्तनों से वर्तमान खाद्य
  • 9:05 - 9:07
    असुरक्षा कितनी प्रभावित होती है।
  • 9:08 - 9:09
    लेकिन मैं नहीं कर सकती
  • 9:09 - 9:11
    हमारे पास इस पर भी अनुसंधान नहीं है
  • 9:12 - 9:16
    इस क्षेत्र में बहुत कुछ है जिसे जानने
    की जरूरत है
  • 9:16 - 9:20
    जिसमें संभावित समाधान क्या
    हो सकते हैं ,भी शामिल हैं
  • 9:20 - 9:23
    हम नहीं जानते कि वास्तव में
    वे समाधान क्या हैं,
  • 9:23 - 9:25
    लेकिन हमारे पास कई विकल्प हैं।
  • 9:26 - 9:28
    हमें टैकनोलजी में प्रगति
    मिली है।
  • 9:28 - 9:31
    हमें प्लांट ब्रीडिंग मिली है।
    हमें बायोफोर्टिफिकेशन मिला है।
  • 9:31 - 9:33
    मिट्टी फर्क कर सकती थी।
  • 9:33 - 9:36
    और, ज़ाहिर है, यह जानना
    बहुत मददगार होगा
  • 9:36 - 9:40
    ये परिवर्तन हमारे भविष्य के स्वास्थ्य को
    कैसे प्रभावित कर सकते हैं
  • 9:40 - 9:43
    हमारे बच्चों के स्वास्थ्य और
    हमारे पोतों के स्वास्थ्य में
  • 9:44 - 9:46
    और इन निवेशों में समय लगेगा
  • 9:47 - 9:50
    इन सभी मुद्दों को हल करने में
    समय लगेगा।
  • 9:51 - 9:55
    कोई राष्ट्रीय संस्था या
    व्यावसायिक समूह नहीं है
  • 9:55 - 9:57
    जो इस शोध को वित्त दे रहा है।
  • 9:58 - 10:03
    हमें इन निवेशों की बहुत आवश्यकता है ताकि
    हम जान सकें कि हम कहां जा रहे हैं
  • 10:04 - 10:07
    इस बीच, हम जो कर सकते हैं
  • 10:07 - 10:13
    वह यह सुनिश्चित करना है कि
    सभी लोगों की एक संपूर्ण आहार तक
  • 10:13 - 10:17
    पहुंच है, न केवल दुनिया के अमीर
    हिस्सों में बल्कि दुनिया में हर जगह
  • 10:18 - 10:22
    हमें व्यक्तिगत और सामूहिक रूप से अपने
    ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन को कम करना है
  • 10:22 - 10:26
    सदी में बाद में आने वाली चुनौतियों
    को कम करने के लिए
  • 10:28 - 10:33
    यह कहा गया है कि यदि आपको लगता है कि
    शिक्षा महंगी है,तो अज्ञानता का प्रयास
  • 10:34 - 10:35
    करें।
    ऐसा न करें।
  • 10:36 - 10:39
    निवेश करें अपने आप में,
  • 10:39 - 10:40
    अपने बच्चों में
  • 10:40 - 10:41
    और अपने ग्रह में
  • 10:41 - 10:43
    धन्यवाद।
  • 10:43 - 10:47
    (तालियां)
Títol:
जलवायु परिवर्तन कैसे हमारे भोजन को कम पौष्टिक बना सकता है
Speaker:
क्रिस्टी ईबी
Descripció:

वातावरण में कार्बन का स्तर बढ़ने से पौधे तेजी से विकसित हो सकते हैं, लेकिन इसका एक और छिपा परिणाम है: ये उन पोषक तत्वों और विटामिनों को पौधों से लूटते हैं जिनकी हमें जीवित रहने के लिए आवश्यकता होती है। वैश्विक खाद्य सुरक्षा के बारे में एक चर्चा में, महामारी विज्ञान विशेषज्ञ क्रिस्टी ईबी इस बढ़ते पोषण संकट के संभावित बड़े पैमाने पर स्वास्थ्य परिणामों की पड़ताल करती है - और उन क़दमों की पड़ताल करती है जिन्हे हमें उठाना चाहिए यह सुनिश्चित करने के लिए कि सभी लोगों को सुरक्षित, स्वस्थ भोजन तक पहुंच प्राप्त हो।

more » « less
Video Language:
English
Team:
closed TED
Projecte:
TEDTalks
Duration:
11:00

Hindi subtitles

Revisions